Tuesday, September 28, 2010

नटखट माधव

माधव दिन पर दिन नटखट बनता जा रहा है . अब वो काम करना भी शुरू कर दिया है जिससे दूसरे परेशान हो और माधव को मजा आये . कल रात (27, सितम्बर,2010) को माधव ने बोतल से पानी मुह में लेकर फेकना शुरू कर दिया. इस काम से दूसरों को परेशानी हो रही थी और माधव को मजा आ रहा था और वो ठहाके लगा रहा था . वीडियो में आप ठहाके देख सकते है .




13 comments:

Udan Tashtari said...

पानी से नई मस्ती सीख गया है..हा हा!

M VERMA said...

वाकई नटखटपन आ गया है.

चैतन्य शर्मा said...

खूब मस्ती हो रही है माधव.....

शरद कोकास said...

अरे माधव !

राज भाटिय़ा said...

नही बेटे यह गलत बात है, ऎसी शरारत ठीक नही, मम्मी पापा को बोलो तुम्हे रोके, अभी से तुम्हे अच्छी शिक्षा दे.

sky-blue freak :D said...

Cute little boy !!!

Ashish (Ashu) said...

मॆ राज भाटिया जी से सहमत हू....माधव, अब तो पापा से कह दो कि एक होली वाली पिचकारी एडवांस मे मगा लो फिर उसी से खूब मस्ती करना

माधव said...

@ राज भाटिय़ा
agreed

संजय भास्कर said...

खूब मस्ती हो रही है माधव.....

Anonymous said...

मैं कल्पना कर सकता हूं.. शरारती..

प्यार..

रंजन said...

मैं कल्पना कर सकता हूं.. शरारती..

प्यार.

Shivani said...

माधव तुम्हारा ये नन्हा ब्लॉग बहुत प्यारा लगा. इसके पीछे जिसकी भी मेहनत है वह बधाई का पात्र है. शरारतें करते रहना...

jai said...

i am really impressed with this story

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates