Thursday, April 26, 2012

लीलू मैम और शिवाली मैम

माधव को नए स्कुल जाते आधा महीना हो चुका है . पर नए स्कुल में किसी से दोस्ती नहीं हुई है ना ही किसी सहपाठी का नाम याद हुआ है . हाँ नयी मैम का नाम याद हो चुका है . लीलू मैम और शिवाली मैम . माधव के अनुसार  लीलू मैम अच्छी है , प्यार करती है पर शिवाली मैम प्यार नहीं करती बल्कि गुस्सा करती है . 


हर छात्र अपने शिक्षक का सबसे बड़ा मूल्यांकन करता है . अपने छात्र का दिल जीतना अध्यापक का पहला काम होना चाहिए . मुझे लगता है  लीलू मैम ने ये काम कर लिया है . 


खैर मै कोई शिक्षा विद नहीं  हूँ , और उपरोक्त टिप्पड़ी  मेरा अपना पर्सनल व्यू है .


माधव के लिए एक स्टडी टेबल लिया है . रानी झांसी रोड , विडियो कान टावर के पीछे दिल्ली का सबसे बड़ा सायकिल मार्केट है  . वही से माधव के लिए स्टडी टेबल खरीदा है . अब होम वर्क इसी पर बैठ कर होता है .

















2 comments:

Anonymous said...

But why does it have to be that cold and not 5 degrees warmer.
Then you could login with a newly reset Facebook password.
When the download is complete click on run and you will be asked
" are you sure you want to run this software.

Check out my blog :: comcast email hacked

Anonymous said...

Hola! I've been reading your site for a long time now and finally got the courage to go ahead and give you a shout out from New Caney
Texas! Just wanted to mention keep up the fantastic job!


Have a look at my website Saleh Stevens

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates