Tuesday, November 30, 2010

आरा यात्रा : छठ की झलकिया

आरा में इस साल हमारे घर में भी छठ हुआ था. बड़ी मम्मी और बुआ ने व्रत रखा था .खास बात ये रही कि हम किसी तालाब के पास नहीं गए बल्कि अपने घर के छत पर ही छोटा सा तालाब बना लिया . वही पर अर्घ्य दिया गया .











4 comments:

honesty project democracy said...

अच्छी प्रस्तुती...

Akshita (Pakhi) said...

अले वाह, घर बैठे-बैठे ही त्यौहार मना लिया...अच्छी-अच्छी फोटो भी.

_______________________
'पाखी की दुनिया ' में पाखी पहुँची पोर्टब्लेयर....

नीरज जाट जी said...

तालाब कहां है? तालाब तो दिखाओ भाई।

माधव( Madhav) said...

@ सही कहा आपने , कित्रिम तालाब दरअसल सामने बनाया गया है

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates