Friday, April 30, 2010

माधव : ढोल वाला

मुझे ढोल बजाते कभी देखा है? नहीं ना ! आज दिखाता हूँ मै ढोल भी बजाता हूँ , पापा कहते है तबलची बनेगा
आप क्या कहते है ?

4 comments:

शुभम जैन said...

wah madhav khub jam kar dhol batya...maja aa gya

सैयद | Syed said...

रे ढोली तारो.. ढोल बाजे.. ढोल बाजे :)


पर पता नहीं मैं विडियो क्यूँ नहीं देख पा रहा हूँ ?

आनंद said...

मीले सुर मेरा तुम्हारा तो सुर बने हमारा

रावेंद्रकुमार रवि said...

मनभावन होने के कारण
चर्चा मंच पर

मेरा मन मुस्काया!

शीर्षक के अंतर्गत
इस पोस्ट की चर्चा की गई है!

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates