Thursday, December 30, 2010

अलविदा २०१० ( कुछ भूली बिसरी यादें )

साल बीतने में अब कुछ घंटे ही बचे है . अपना तीसरा साल माधव और मेरे लिए काफी अहम रहा . इस साल माधव का मुंडन हुआ . माधव ने ठीक से बोलना शुरू किया . बहुत सारी यादें जुडी इस साल .इन सभी मीठी यादों को मैंने इस विडियो में समेटा है.इस साल और दशक की की ये आख़िरी पोस्ट है . कुछ ही घंटो में ये साल ही नहीं बल्कि इक्कीसवीं सदीं का पहला दशक भी समाप्त हो जाएगा . आने वाला साल और दशक माधव के लिए काफी अहम होगा .

तो अलविदा २०१० और इसकी यादो के साथ मै इस पोस्ट को आपके लिए छोड़े जाता हूँ .



6 comments:

राज भाटिय़ा said...

माधब यार बहुत अच्छी लगी यह सब यादे, मजा आ गया, चलो अब मिलेगे नये साल पर.... राम राम

अल्पना वर्मा said...

''आने वाला साल और दशक माधव के लिए काफी अहम होगा''' --इसीलिये माधव और उसके मम्मी पापा और परिवार में सभी को नव वर्ष २०११ के लिए हार्दिक मंगलकामनाएं

Patali-The-Village said...

माधव बेटे बहुत अच्छी लगी यह सब यादे, नए साल की ढेर सारी सुभकामनाएँ|

Akshita (Pakhi) said...

नए साल पर आप सभी लोगों को ढेर सारा प्यार और नव वर्ष - 2011 की खूब बधाई !!

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " said...

yug-yug jiyo bhaiya madhav!

शुभम जैन said...

aree wah bahut sundar yaaden...

naye saal ki bahut sari shubhkamnaye...

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates