Wednesday, December 29, 2010

पापा..पापा स्टोरी सुनाओ ( टू स्टोरी, )


यु ही एक रात माधव को एक स्टोरी सुनाने लगा . जंगल की स्टोरी , जिसमे एलीफैंट है , काउ है , टाइगर है .दरअसल स्टोरी थी ही नहीं मै तो बस बाते जोड़ जोड़ कर और बना बना कर आगे बोल रहा था पर खास बात ये कि जंगल की स्टोरी माधव को बहुत अच्छी लगी , उसने खूब ध्यान से सूनी . अब रोज रात को सोने से पहले माधव बोलता है पापा... पापा स्टोरी सुनाओ . एक नही.. टू स्टोरी. स्टोरी जंगल की ही होने चाहिए , यानी की शुरुआत ऐसे होनी चाहिए "एक जंगल था......". बिना जंगल के स्टोरी माधव को अच्छी नहीं लगती है .स्टोरी में बीच में माधव भी आ जाता है. एक दिन संता क्लाज की भी स्टोरी सुनाई थी , मैंने बताया कि संता क्लाज होर्स पर बैठ कर आता है और छोटे बच्चों को चोकलेट और खिलौने देता है . अब अगली सुबह मैंने माधव के जागने से पहले ही उसके तकिये के नीचे एक चोकलेट रख दिया , माधव नींद से जगा ,चाकलेट देख बहुत खुश हुआ पर ये भी पूछा की सांता क्लाज ने खिलोने क्यों नहीं दिए ?

अब बना बना कर कितनी कहानियां सुनाउंगा ,मेरा स्टोक खत्म हो गया है . लग रहा है कि किसी किताब से स्टोरी पढ़ कर सुनानी पड़ेगी .




मृत्युंजय कुमार राय


5 comments:

नीरज जाट जी said...

इसका मतलब है कि आप कभी दादी-नानी के पास नहीं गये हैं। अगर गये होते तो आज यह नौबत ना आती।
वैसे आप बेफिक्र रहिये। महिलायें ज्यादा कहानियां सुना सकतीं हैं। माधव की मम्मी की सहायता लीजिये।
इस मामले में भारत में महिलाओं का ही राज है।

कुमार राधारमण said...

बच्चों की कहानी की ज़िद माता-पिता की अपनी सृजनात्मकता के लिए भी चुनौती होती है।

smshindi said...

NAYA SAAL 2011 CARD 4 U
_________
@(________(@
@(________(@
please open it

@=======@
/”**I**”/
/ “MISS” /
/ “*U.*” /
@======@
“LOVE”
“*IS*”
”LIFE”
@======@
/ “LIFE” /
/ “*IS*” /
/ “ROSE” /
@======@
“ROSE”
“**IS**”
“beautifl”
@=======@
/”beautifl”/
/ “**IS**”/
/ “*YOU*” /
@======@

Yad Rakhna mai ne sub se Pehle ap ko Naya Saal Card k sath Wish ki ha….
मेरी नई पोस्ट पर आपका स्वागत है !

smshindi said...

आपके ब्लाग आकर मुझे तो खुश मिली है

राज भाटिय़ा said...

बहुत सुंदर जी लेकिन यह सांता क्लाऊस घोडे पर नही जी रेन नाम के( एक तरह से बारह सिंगा हिरण) जानवर की गाडी से आता हे:)

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates