Tuesday, December 14, 2010

एक शाम " क्रास रिवर माँल "में

कल (13 December, 2010) मम्मी पापा की शादी की वर्षगाठ थी . मंदिर में पूजा के बाद हम घूमने क्रास रिवर माल गए . रंग बिरंगे झूले और सजी हुई दुकाने देख मै बहुत खुश हुआ .वही मैंने एस्केलेटर से ऊपर चढना और नीचे उतरना सीखा . इसके पहले मै एस्केलेटर पर चढ़ने में बहुत डरता था . घूमने के बाद हमने वही हल्दीराम में खाना खाया और फिर देर रात घर वापस आये .



एनिवर्सरी केक के साथ








3 comments:

SEPO said...

bahut acche tasveere hai. bahut mubaarak baad aapko

Akshita (Pakhi) said...

माधव, हमारा केक कहाँ है. सब अकेले तो नहीं खा गए....

संजय भास्कर said...

are akele akele

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates