Tuesday, June 1, 2010

नाना नानी के शादी की वर्षगाठ काफी डे (Cafe Coffee Day) के साथ


पिछले हफ्ते (27 May 2010) मेरे नाना- नानी के विवाह का वर्षगाठ था . मम्मी पापा ने सबेरे ही नाना -नानी को फोन करके शादी के वर्षगाठ बधाई दी , नाना -नानी ने वधाई स्वीकार कर ली और ये भी कहाँ की माधव को साथ ले कर किसी रेस्टोरेंट में खाना खा ले , बिल जब वो दिल्ली आयेंगे तो देंगे .अब यहाँ फैसला हुआ की शाम का खाना किसी रेस्टोरेंट में खायेंगे , पर शाम होते - होते गर्मी इतनी बढ़ गयी की बाहर जाकर खाना खाने का विचार त्यागना पडा . पापा ने काफी डे में चलकर काफी पीने का प्रस्ताव पेश किया जो सर्व सम्मति से मान लिया गया .


हमारे घर के ठीक पीछे Cofee Cafe Day का एक outlet है , हम रात में वही गए . मामा ने Coffee Nirvana लिया और मम्मी- पापा ने Devils Own . coffee nirvana में काले रंग का चोकलेट लगा था सो मैंने गंदा कहकर लेने से मना कर दिया, पर Devils Own मुझे अच्छा लगा . वहां हमने पहली बार केले का चिप्स खाया . पुरी दूकान खाली थी , सारी टेबले खाली थी सो मैंने हर टेबल/सोफे पर बैठकर खूब एन्जॉय किया .










पुरी दूकान खाली थी , सो हर टेबल का निरक्षण किया


मुझे भी लेना है





29 comments:

sangeeta swarup said...

खूब पार्टी उडाई है.....और हमारी कॉफी ???????????

पिक्चर्स बहुत अच्छी हैं

पी.सी.गोदियाल said...

Thats really interesting Madhav. Please convey my belated Best Wishes to Nanaji and Naniji for their marriage anniversary.

राज भाटिय़ा said...

"नाना नानी के शादी की वर्षगाठ पर उन्हे ओर तुम सब को बधाई, यार यह इतने मुश्किल मुश्किल नाम बता रहा है तु हम तो सुन कर चुप रह जायेगे.... भईया हम तो लस्सी, शिकंजवी ओर चाय ही समझते है ना... रहे देसी के देसी

कुमार राधारमण said...

बहाना कुछ भी हो,नाना-नानी और दादा-दादी से सम्पर्क आजीवन बना रहे,मेरी यही आकांक्षा है।

शिक्षामित्र said...

जब बुजुर्ग नहीं रहते और हम बड़े हो जाते हैं,तब उनकी याद बहुत सताती है। इसलिए,नाना-नानी को खूब एज्वाय करना माधव।

माधव said...

@ राज भाटिय़ा

भाटिया अंकल , सही कहा आपने , हमें भी वो cofee कुछ ख़ास नहीं जची, मै भी दूध दही मन से खाता हूँ . thnx for comment

shikha varshney said...

वाह बहुत जयेकेदार तस्वीरें हैं ..मजेदार लग रही है काफी

नीरज जाट जी said...

अच्छा, रात हो गयी है, सो जा।

अभिलाषा said...

Interesting...!!

अभिलाषा said...

'सप्तरंगी प्रेम' ब्लॉग एक ऐसा मंच है, जहाँ हम प्रेम की सघन अनुभूतियों को समेटती रचनाएँ प्रस्तुत कर रहे हैं. रचनाएँ किसी भी विधा और शैली में हो सकती हैं. अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए 2 मौलिक रचनाएँ, जीवन वृत्त, फोटोग्राफ भेज सकते हैं. रचनाएँ व जीवन वृत्त यूनिकोड फॉण्ट में ही हों. रचनाएँ भेजने के लिए मेल- hindi.literature@yahoo.com

सादर,
अभिलाषा
http://saptrangiprem.blogspot.com/

अक्षिता (पाखी) said...

वाह, कित्ती बढ़िया पार्टी...फिर से जाना मस्ती करने माधव.

आचार्य जी said...

क्रोध पर नियंत्रण स्वभाविक व्यवहार से ही संभव है जो साधना से कम नहीं है।

आइये क्रोध को शांत करने का उपाय अपनायें !

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बहुत-बहुत बधाई!

sm said...

great pics
looks you enjoyed the party
congrats

KK Yadava said...

नाना-नानी की वर्ष गाँठ और माधव की काफी...दोनों मुबारक हो.

राकेश कौशिक said...

"माधव" इतने प्यारे हो कि जो देखे वो देखता ही रहा जाये - हमारी तरफ से भी नानाजी और नानाजी को शादी की वर्षगाँठ पर बधाई पहुंचा देना

योगेश शर्मा said...

saare parivaar ko shubhkaamnaayein aur tumko dher sa pyaar aur aasheesh

आचार्य जी said...

आईये जानें ..... मन ही मंदिर है !

आचार्य जी

संजय कुमार चौरसिया said...

dear madhav
aapki sabhi tasveeren achchhi hain,

aapko dekhkar nahin lagta ki aap jiddi honge,

दिनेश शर्मा said...

आप हमें काफी पर कब बुला रहे हैं?

शरद कोकास said...

कितना अच्छा लगा यह जानकर ..इसलिये कि 27 मई मेरे मम्मी -पापा के विवाह की वर्षगाँठ भी है ..लेकिन दोनो ही इस दुनिया में नहीं है .. आज तुम्हारी यह पोस्ट पढ़कर उनकी बहुत याद आई ।

रावेंद्रकुमार रवि said...

बढ़िया और आकर्षक होने के कारण
चर्चा मंच पर इस पोस्ट की चर्चा
निम्नांकित शीर्षक के अंतर्गत की गई है –
इस दुनिया में सबसे न्यारे!
--
टर्र-टर्रकर मेढक गाएँ -
पेड़ लगाकर भूल न जाना!

आचार्य जी said...

आईये जानें .... मैं कौन हूं!

आचार्य जी

आशीष कुमार 'अंशु' said...

Sundar..

alka sarwat said...

अरे वाह !इतनी प्यारी काफी ,मुंह में पानी आ गया ,और आप चम्मच से पी रहे हैं ,
इतना छोटा मुंह और इत्ता बड़ा चम्मच .............
लाल वाली टी शर्ट पहन के क्यों नहीं गये?

सुरेश शर्मा (कार्टूनिस्ट) http://sureshcartoonist.blogspot.com/ said...

प्रिय माधव, तुम्हारे पापा के अनुरोध पर हम तुमसे मिलने तुम्हारे ब्लॉग पर चले आये, यहाँ आकर बहुत अच्छा लगा, तुम्हारी तस्वीरों ने तो मन मोह लिया..सच बहुत प्यारे हो तुम और बहुत ही भाग्यशाली भी..क्योंकि तुम्हे बेहद प्यार करने वाले मम्मी-पापा मिले हैं..तुम्हारे लिए दिल से यही आवाज निकलती है...
तुम्हे और क्या दूं मैं दिल के सिवा,
तुमको हमारी उम्र लग जाये

संजय भास्कर said...

नाना-नानी की वर्ष गाँठ और माधव की काफी...दोनों मुबारक हो.

Mridula said...

This is a very cute post!

संजय भास्कर said...

वाह बहुत जयेकेदार तस्वीरें हैं

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates