Thursday, June 24, 2010

काटू

मम्मी ने मेरे लिए एक अनजाने अदृश्य से डर का इजाद किया है नाम है "काटू ". जब भी मै कुछ जिद करता हूँ , कोई बात नहीं मानता हूँ , शैतानियाँ करता हूँ , मम्मी कहती है "काटू आ जाएगा ". कह सकते है मेरे पहले डर का नाम है "काटू ". अब काटू को अपने अनुसार बना लिया है , कुछ भी, जो अजीब है , असामान्य है , वो काटू है और उससे मुझे डर लगता है . 9XM टी वी चैनेल पर दो एनिमेटेड पात्र आते है उनके नाम हैबड़े और छोटे , जो बोलते है "बकवास बंद कर " . उस पात्र की तीन आँखे है वो भी काटू है , मुझे उससे बहुत डर लगता है . जब भी वो प्रोग्राम टी वी पर आता है मै भाग कर दुसरे कमरे में चला जाता हूँ , अब पापा और मामा मजा लेने के लिए भी कभी - कभी 9XM टी वी चैनेल लगा देते है.




सबसे खतरनाक काटू

9XM टी वी चैनेल पर ही दो तीन और एनिमेटेड कैरेक्टर आते है जिनके नाम है , भीगी बिल्ली , बादशाह भाई , ये सभी काटू है.इन सबके चलते मेरे घर अब 9XM टी वी चैनेल चलना बंद ही हो गया है , क्योकि हर गाने के ख़त्म होते ही ये आ धमकाते है ( दरअसल 9XM टी वी चैनेल के सारे होस्ट एनिमेटेड पात्र ही है ). पर रात को जब मै दूध पीने से मना करता हूँ तो इसी 9XM टी वी चैनेल का सहारा लिया जाता है , तब मै डर के कारण दूध पी लेता हूँ .

इसका नाम "भीगी बिल्ली" है पर इसको देखकर मै भीगी बिल्ली बन जाता हूँ

ये भी काटू ही है

काटू की लिस्ट दिन पर दिन लम्बी होती जा रही है . ताजा सूरते हाल ये है की काटू भी अब दो प्राकार के हो गए है , अच्छा काटू और बुरा काटू . दिल्ली कामन वेल्थ गेम्स का मस्कोट "शेरा " भी काटू ही है , पर वो अच्छा काटू है .


ये अब अच्छा काटू बन गया है

7 comments:

रंजन said...

मम्मी को बोलो...डराने का नहीं..

वो काटू बने तो तुम बड़े काटू बन जाओ..


प्यार..

संगीता पुरी said...

काटू नहीं आएगा कभी भी .. मम्‍मी पापा तुझे बेवकूफ बनाया करते हैं !!

राज भाटिय़ा said...

अरे नही ममी पापा को बोलो ऎसा नही करते एक दिन बेठ कर प्यार से तुम्हे सब बताये, डरना या डराना अच्छा नही

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

कुछ दिनों में "काटू" का भय निकल जायेगा!

नीरज जाट जी said...

अच्छा काटू
मतलब शेरा से अब डर नहीं लगता।
दिन में एक बार मेरा भी फोटू देख लिया कर, एक और काटू मिल जायेगा।

शुभम जैन said...

aree madhav ye katu watu kuch nahi hota...lekin haan beta dhudh nahi pina gandi baat hai, ishita bhi aise hi karti hai...lekin aap to gud boy ho na dhudh pi kar jaldi se strong ban jao aur sare katu ko khatam kar do :)

Indrani said...

Written so well.:)

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates