Monday, June 14, 2010

दिल्ली में आंधी और मेरे नए कपडे -नए खिलौने

शनिवार को मम्मी पापा मुझे सुलाकर कमलानगर गए . वहां कोल्हापुर रोड से उन्होंने मेरे लिए तीन टी शर्ट और दो खिलोने लिए . एक एयर बस और एक creative ब्लाक . एयर बस बहुत बड़ा है , डैने लगने के बाद तो बहुत बड़ा दिखने लगता है . creative ब्लाक का सेट मुझे ज्यादा पसंद आया .





नया टी शर्ट

एयर बस ( Air Bus )

माधव एयर लाइन्स

कल जब मैंने नया टी शर्ट पहना तो दिल्ली में शाम को खूब तेज आंधी आयी . धुल भरी आंधी और बारिस भी हुई .मै पापा के साथ घर की छत पर गया , खूब तेज हवा चल रही थी ,
पर मजा आ रहा था ये रही कुछ झलकियाँ






.

18 comments:

रंजन said...

अपनी एरलाइन्स में एक टिकट हमारा भी बुक कर दो..


प्यार..

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत प्यारे फोटो ...

शुभम जैन said...

nayi t shirt me to abhut smart lag rhe ho madhav...aaj yahan bhi bahut barish hui...aur tumhara airbus to bahut hi achcha hai...hume bhi baitaoge na usme... :)

shikha varshney said...

waah esh hai bhai

Surendra Singh Bhamboo said...

How Sweets Photos & Locations

माधव said...

सभी ब्लॉगर जो इस पोस्ट पर कमेन्ट कर रहे है , माधव एयर लाइन्स पर उनकी बुकिंग साथ ही साथ हो रही है .

नीरज गोस्वामी said...

वाह भाई वाह...नयी टी शर्त में हीरो लग रहे हो और माधव एयर लाइन तो लगता है किंग फिशर का बैंड बजा देगी...
नीरज

abhi said...

हम्म..अच्छा है..नया टी-शर्ट में स्मार्ट तो लग ही रहे हो और अब ये बताओ की हमें भी घुमाओगे न एरलाइन्स पे ;) कब की बुकिंग है हमारी, ज़रा बता देना :)

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

चश्म-ए-बद दूर!
बहुत सुन्दर लग रहे हैं आप!

M VERMA said...

ये टीशर्ट तो बहुत प्यारा और फिर माधव एयरलाइंस के क्या कहने .. बहुत खूब

अक्षिता (पाखी) said...

बहुत खूब माधव. माधव एयर लाइंस की एक बुकिंग अंडमान से भी.

Shiv said...

वाह! माधव की जय हो.

बहुत बढ़िया लग रहा है एयरबस. और तुम्हारी तस्वीरों के तो क्या कहने. बस, मन प्रसन्न हो गया. नए टी-शर्ट, एयरबस के लिए बधाई.

दिगम्बर नासवा said...

वाह नयी टी शर्ट ... और साथ ही हवाई जहाज़ ... कहाँ जाने का इराद है ...

Dr. shyam gupta said...

इसे कहते हैं कि --सुविधा का अनुचित उपयोग, जो आगे जाकर एसे बच्चों को भी सार्वजनिक वस्तुओं का दुरुपयोग सिखायेगा, क्या आवश्यकता है आवश्यक वस्तु के दुरुपयोग की, यदि जरा भी किसी में मानवता व पर्यावरण प्रेम, देश प्रेम है तो तुरन्त एसी मूर्खताओं को बन्द कर दें जो बच्चों को गलत राह दिखाये .

बेचैन आत्मा said...

इतने सुदर खिलौने..!
अब तो आना ही पड़ेगा खेलने के लिए.

आचार्य जी said...

आईये जानें ..... मैं कौन हूं !

आचार्य जी

arvind said...

bahut acchaa dikh rahe hai aap....ek aap hain jo khilone our t-shirt se hi khush ho jaate hai our dusri or baanki bloggers blogvaani me rank nahi aane se naaraaj hain....

संजय भास्कर said...

.नया टी-शर्ट में स्मार्ट तो लग रहे हो

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates