Sunday, June 19, 2011

दादी ने बोर्नबीटा दिया

पिछली बार जब मै आरा से दिल्ली आ रहा था ,दादी ने मुझे बोर्नबीटा दिया था , पीने के लिए .शुरू में मैंने मना कर दिया फिर मम्मी ने चाय कह कर देनी शुरू किया तो मैंने पीना शुरू कर दिया है . अब मम्मी मुझे रोज दूध में बोर्नबीटा डाल कर देती है और बोलती है माधव चाय पी लो .और मै दुघ पी लेता हं .

2 comments:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

दूध में मिला कर रोज खाया करों बेटा बोर्नविटा को!

Patali-The-Village said...

बहुत अच्छी बात है रोज पिया करो|

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates