Sunday, October 7, 2012

सायकिल की वापसी

माधव की सायकिल कई दिनों से खराब पडी थी .पिछले दिनों मैंने उसकी सर्विसिंग कराई , १०० रूपये लगे . पर अगले ही दिन टायर की हवा निकल गई. अब कल फिर से हवा भराने गया . माधव ने खुद भी हवा भरने की कोशीश  कि . अब सायकिल परफेक्ट बन गई है और माधव सायकिल को खूब तेज दौड़ा रहा है .   

















2 comments:

रुनझुन said...

बहुत प्यारी सायकिल है आपकी...:)

भावना said...

aha ..bahut sundar ...vaise side guard lage hain fir bhi papa ko kahana head gear le de ...suraksha ke sath sath achhi adat banegi...fir aap hamesha maje se chalate rahna .."pyari cycle" :)

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates