Monday, February 7, 2011

मै हूँ डॉन

ये नमन का चश्मा है . कल नमन और तनु मेरे घर आये थे , दोनों एक- एक काला चश्मा पहने हुए थे. मैंने नमन को अपनी गाड़ी दी ,और उसका चश्मा ले लिया .



कैसा लग रहा हूँ


दोस्तों के साथ


एक और स्टायल


11 comments:

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " said...

वाकई बहुत सुन्दर लग रहे हो माधव भैया !

Vijai Mathur said...

शानदार फोटो हैं.

Patali-The-Village said...

बहुत सुन्दर लग रहे हो माधव बेटे|

आप को बसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएँ|

राज भाटिय़ा said...

अबे डान यार मुझे तो डर लग रहा हे....ठहर जा माधब को ले कर आता हुं

सैयद | Syed said...

अरे दीवानों... इसे पहचानो.... ये है कौन ? :)

रावेंद्रकुमार रवि said...

मुझे तो डायना का स्टायल बहुत धाँसू लगा!
--
पर यह डॉन-डायना का खेल ठीक नहीं!

Alok Mohan said...

ekdam hero mafik

Er. सत्यम शिवम said...

आपकी उम्दा प्रस्तुति कल शनिवार (12.02.2011) को "चर्चा मंच" पर प्रस्तुत की गयी है।आप आये और आकर अपने विचारों से हमे अवगत कराये......"ॐ साई राम" at http://charchamanch.uchcharan.com/
चर्चाकार:Er. सत्यम शिवम (शनिवासरीय चर्चा)

Ramkesh patel said...

बहुत बढिया |

Dr (Miss) Sharad Singh said...

कित्ते सुंदर लग रहे हो माधव बेटे|बहुत खूब...

नीरज गोस्वामी said...

गज़ब की स्टाइल...वाह...मान गए डान को....

नीरज

 
Copyright © माधव. All rights reserved.
Blogger template created by Templates Block Designed by Santhosh
Distribution by New Blogger Templates